खरीददारे

खरीददारे

शिमला भौरी मौंगी चिज़ा पेश कौरा। ज़ास अवसर शिमला आपु देया। एऊ औलग-औलग प्रकारा री चिज़ा सम्मिलित कौरा ज़िणै दस्तकारे, लाकड़ी और धातु कौरी च़ाणींदी चिज़ा शौल, ऊना रे बनेन, लोकल ऊना रे जुड़के, टोपा, तिब्बती गलीचों या दरी और अचार, जैम और शरबत आदी।

हिमाचल प्रदेशा रे शिमला दी दस्तकारी खैलाए आच्छ़ौ बज़ार आस्ती। ऊना रे और पश्मिना शौल, सौज़ाणा री चिज़ा, हाथा कौरी च़ाणान्दा बूट, गुड़ीया ऊने री टोपी, लाकड़ी री नक्काशे, खैलटु और भौरी चिज़ा लाकड़ी री बौणा बल्कि शिमला दे ही बौणा और एथरी बिक्री लक्कड़ बज़ारा दे होआ। तिब्बतीयन आभुषण और छ़ौटे आभुषण तुमुका छ़ौटी तिब्बतीयन दुकाना दे मिला ज़ो की रिज़ा रे नेड़ी आस्ती।