शिमला दे दक्षिणी-विषयक यात्रा

शिमला दे दक्षिणी-विषयक यात्रा

ऊबी का तोल़ा री बिया चीड़ा रे पेड़ टुटीकण्डी ज़ागहा ढौका। इदरा का घुमणै माथी एक लोकल धनु देओ रो मंदिर आस्ती जो बिहार गांवा दे आस्ती। 19 वी. सदी रे पुराणै कब्रिस्ताना का तुमा चीला रे पेड़ा का और देवदारा रे पेड़ा रे ज़रिऐ वापस आशी सौका। माला खै लाऐ तुमा कनलौग,आलु अनुसंधान केन्द्र और बेम्लौ का डेई सौका। अगर तुमा आलु अनुसंधाना री ज़ागहा और कब्रिस्ताना का डेआ ता तुमा आपणी बाटा का भौटकी सौका। तुमा तिदा गाड़ी भी च़लाई सौका। पुरे यात्रा 6 का 7 किलो मीटर आस्ती।