शिमला दे देखणे री ज़ागा

शिमला दे देखणें री ज़ागा

माल: माल उत्तरी भारता दे सौबिका भौरी घुमणैं री ज़ागा आस्ती। जो शिमला दे मुख्य खरीददारी कौरणे री ज़ागा आस्ती साथी इया भौरी का होटल़,कल्ब,बैंक,बार,डाक खानो और प्रर्यटक कार्यालय आस्ती। तिया गेयटी थीयेटर भी आस्ती। इया लौग माला माथी घुमा तोंइंया भुशा ला। ऐऊ सौबी खै एक मुख्य बैठक और सभा री ज़ागा आस्ती। माला माथी रिज़ और स्केन्डल पोंइट ऐ दुई भौरी ज़रुरी ज़ागा आस्ती।

क्राइस्ट चर्च: रिज़ा माथी एक चर्च ऐ बौणौंदो जो की उत्तरी भारता दे दुज़ो पुराणों चर्च आस्ती। ऐऊ एक बौड़िया दर्शन आस्ती और ऐसरे भीतरी बीया रौगं-बिरौगें खीड़के आस्ती। जो की विश्वास, आशा, दया, हिम्मत, सैन कौरणो और नम्र स्वभाव देखाल़ा। चर्च एक ईणी ज़ागा आस्ती ज़िया सौब लौगा रे कुछ बौगत बिताऊणौ चांई।

जाखु हिल: जाखु हिल जो की सौबिका ऊंचे चोटे आस्ती शिमला का 2 कि.मी. और 8000 फिट ऊंचे आस्ती और इया का आमे शैहरा रो बड़िया नज़ारो देखी सौका। तोइंया हिमालय हिऊं कौरी ढौकोन्दों रोआ। पहाड़ा री ऊंचाई माथी हनुमाना रो एक पुराणों मंदिर आस्ती जो की भौरी का बांदरा रो घौर आस्ती जो की सौबी प्रर्यटकों रो इतंजार कौरा की कैबी से तिउंखै खाणें खी रोटी देया।

शिमला ज़िले रो संग्रहालय: संग्रहालय जो की 1974 दे पहाड़ काटियो चाणैन्दी परियोजना और राज्य री सांस्कतिक धन संपत्ति आस्ती। संग्रहालय री संग्रहक्रिया दे कला रो उद्धेश्य मुख्यरुपा का कला का और हिमाचला रे पुरात्तत्वविज्ञान, मानव-विज्ञान का सम्बन्धित आस्ती और भारता रे दुज़े ज़िले का भी। संग्रहालय दे ऐज़े बौगता दे लगभग 9000 मूर्त-पद्धार्था री संग्रहक्रिया आस्ती। कला री शुरुवाता ही का संग्रहालय री शुरुवात चार (कला-विथिका) कला प्रदर्शन कोमरा रे साथी हुऐ। ऐथ बासिऐ कला-विथिका ज़ुड़े। ऐ कला-विथिका एतिहासिकपूर्व बौगता का भारतीय पुरात्तत्वविज्ञान, का, लाकड़ी का बौणीन्दी नक्काशी, हिमाचल पुरात्तत्वविज्ञान, पहाड़ी छौटी चित्रकारी स्मारक, छायाचित्र (फोटोग्राफ) राजस्थानी चित्रकारी, कासाँ, हथियार कला विथिका, गांधी कला विथिका, डाक टिकटा रो संग्रह, मानव विज्ञान, वर्तमान कालीन कला तौइंयां दिवार चित्रकारी कला विथिका रो हिस्सो आस्ती तौइंयां इऊं संग्रहालय कला विथिका दे एक प्रदर्शन हाल आस्ती। जो की प्रर्दशनी रो और दुज़े संग्रहालय री गतिविधि रो प्रबंध कौरा।

एंडवास्ड स्टडीज री भारतीय संस्थान: ऐऊ संस्थान ब्रिटिशा रे बौगता रे दौरान 1884-1888 दे च़ाणौन्दो थो। जो की वाइसरगल लौज़ा दे आस्ती। ऐऊ बौड़ौ उद्यान आस्ती और ऐऊ सुन्दर पाइना रे पेड़ा का घिरौन्दो ऐ। सौबी साहित्य और राजनीति रे पौड़ने आल़े छौरु खै शांत और बड़िया माहौल आस्ती।

समरहिल: 5 कि.मीटरा री दूरी माथी आस्ती। रिज़ा का शिमला कालका रेलवे लाइना माथी 6500 फीटा री ऊंचाई माथी समर हिला री सुन्दर बौस्ते आस्ती। महात्मा गांधी आपणी शिमला यात्रा रे दौरान ऐस शांत ज़ागा माथी रौआ था। हिमाचल प्रदेशा रो विश्वविद्यालय इया आस्ती।

अन्नाडेल: शिमला रे खेला रे मैदाना रे रुपा दी बौणौन्दो, अन्नाडेल 2-4 कि.मीटरा री दूरी माथी आस्ती। 6,117 फीटा री ऊंचाई माथी रिज़ा का क्रिकेट, पिकनीक और पोलो रे राजसी खेला खै लाए एक बोड़िया ज़ागा आस्ती।